हिमालया हिम्प्लसी (Himplasia tablet) एक आयुर्वेदिक दवा है जो आपके प्रोस्टेट को स्वास्थ्य बनाए रखता है। यह दवा नॉन हार्मोनल फॉर्मूलेशन के जरिए बनाया गया है जिसके कारण इस दवा से किसी भी प्रकार के दुष्प्रभाव को देखा नहीं गया है। यह मुख्य रूप से प्रोस्टेट के बढ़ने की समस्या को रोकता है, मूत्र प्रवाह को बनाए रखता है और प्रोस्टेट बढ़ने के करण मूत्र मार्ग में उत्पन्न होने बाले समस्याओं को रोकता है।

और पढ़ें Liv 52 tablet | Baby massage oil

 हिम्प्लसी में पाई जाने वाली सामग्रियां : Ingredients in Himplasia tablet in Hindi.

इस दवा में एक से अधिक आयुर्वेदिक सामग्रियों का इस्तेमाल सही मात्रा में की गई है। निम्नलिखित आयुर्वेदिक सामग्रियों का इस्तेमाल और उसका सही मात्रा ही हिम्प्लसी को एक बेहतर आयुर्वेदिक दवा बनाती है। 

सामग्रियांमात्रा
गोक्षुरा140 mg
शतावरी80 mg
पुट्टीकरनजा120 mg
पूंगा100 mg
वरुणा80 mg
अकीक80 mg
पिष्टी80 mg
बबूलQS
कुलथीQS
एलोवेराQS

हिम्प्लेशिया में पाए जाने वाले चिकित्सकीय गुण  : Medical properties present in Himalaya Himplasia tablet in Hindi.

हिम्प्लेशिया एक आयुर्वेदिक दवा है इसमें एक से अधिक सामग्रियों का इस्तेमाल किया गया है जिसके कारण इस दवा में एक से अधिक चिकित्सकीय गुण मौजूद है जो निम्नलिखित है।

  • एंटी ऑक्सीडेंट 
  • एंटी स्पष्टमोडिक 
  • एंटीमाइक्रोबियल्स 
  • Anti-inflammatory 
  • एंटी हाइपरटेंसिव 
  • अल्फा एड्रेनोसेप्टर एंटागनिस्टिक एक्शन

हिमालया हिम्प्लेशिया का उपयोग : Himlaya Himplasia tablet uses in Hindi.

हिम्प्लेशिया आपके प्रोस्टेट को सामान्य बनाए रखने में मदद करता है जब मनुष्य का प्रोस्टेट ग्लैंड बढ़ जाता है तो कई लक्षण उभरने शुरू हो जाते हैं हिम्प्लेशिया इन लक्षणों को खत्म करने में ही बेहतर काम करता है। हिमालया हिम्प्लेशिया Benign prostatic hyperplasia (BHP) के लिए एक क्लिनिकल रिसर्च दवा है। प्रोस्टेट ग्लैंड को सम्मान बनाए रखने के लिए एक से अधिक दवाएं उपलब्ध है और उसे इस्तेमाल की जाती है लेकिन उसका दुष्प्रभाव काफी ज्यादा देखा गया है लेकिन हिमालया हिम्प्लेशिया के द्वारा अभी तक किसी भी तरह का दुष्प्रभाव देखा नहीं गया है।

और पढ़ें Himalaya gasex | Himalaya LIv 52 ds syrup

हिमालया हिम्प्लेशिया बढ़ी हुई प्रोस्टेट ग्लैंड को सामान रखने के साथ-साथ उनके लक्षणों में भी बेहतर काम करता है हिम्प्लेशिया प्रोस्टेट ग्लैंड के निम्नलिखित लक्षणों में काम करता है

  • पेशाब के अंत में ड्रिब्लिंग
  • मूत्राशय को पूरी तरह से खाली करने में असमर्थता
  • पेशाब करते समय तनाव
  • कमजोर मूत्र धारा  
  • मूत्र त्यागने कि शुरुआती समस्या

मुख्य फायदे

  • बढे हुए प्रोस्टेट के भार को कम करने में मदद करता है 
  • हिम्प्लेशिया प्राकृतिक उपचार के तौर पर काम करता है और प्रोस्टेट ग्लैंड को स्वास्थय बनाए रखता है। 
  • प्रोस्टेट ग्लैंड के बढ़ने के कारण जो लक्षण उभरते हैं उन लक्षणों को कम करने में मदद करता है। 
  • एलोपैथिक मेडिसिंस में काफी ज्यादा दुष्प्रभाव देखे गए हैं लेकिन हिमालया हिम्प्लेशिया में किसी भी प्रकार का दुष्प्रभाव नहीं देखा गया है। 
  • यह मूत्र मार्ग में होने वाले किसी भी प्रकार के संक्रमण को भी रोकता है।

हिमालया हिम्प्लेशिया के दुष्प्रभाव : Side effects of Himalaya Himplasia

हिम्प्लेशिया एक आयुर्वेदिक दवा है इस दवा का किसी भी प्रकार का दुष्प्रभाव नहीं देखा गया है अगर आप इस दवा को लंबे समय तक इस्तेमाल करते हैं फिर भी इस दवा का दुष्प्रभाव लंबे समय में भी नहीं देखा गया है 

हिम्प्लेशिया की खुराक : Dosage of Himalaya Himplasia tablet in Hindi.

हिमालया हिम्प्लेशिया की खुराक मुख्य रूप से बीमारी की जटिलता पर निर्भर करता है अगर आपकी समस्या ज्यादा है तो इसकी खुराक को बढ़ाया जा सकता है लेकिन इसका सामान्य खुराक एक टेबलेट दिन में दो बार की है।

खुराकएक टेबलेट दिन में दो बार

हिम्प्लेशिया टेबलेट का पूछे जाने वाले सवाल।

प्रश्न: हिमालय हिम्प्लेशिया टेबलेट (Himplasia tablet) को कितने समय तक इस्तेमाल की जा सकती है? 

उतर: इसका इस्तेमाल लंबे समय तक भी किया जा सकता है जब तक आपके प्रोस्टेट के लक्षणों में सुधार ना हो जाए 

प्रश्न: क्या हिम्प्लेशिया टेबलेट की खुराक को बढ़ाया जा सकता है 

उतर: हां, इन पलासिया टेबलेट की खुराक को बढ़ाया जा सकता है क्योंकि हिम्प्लेशिया की खुराक बीमारी की जटिलता पर निर्भर करती है 

प्रश्न: क्या लंबे समय के इस्तेमाल के बाद इसका दुष्प्रभाव देखा गया है? 

उतर: नहीं, हिमालया हिम्प्लेशिया का इस्तेमाल अगर आप लंबे समय तक करते हैं तो इसका कोई भी दुष्प्रभाव नहीं देखा गया है


0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published.