निर्माता कंपनी : जेनेरिक नाम 

कीमत (Price) : Rs 9.79/tablet

सामग्रियाँ | उपयोग | दुष्प्रभाव | खुराक | सावधानियाँ | दूसरे ब्रांड | सवाल-जबाब

ओफ्लोक्सासिन और ऑर्निडाज़ोले टैबलेट (Ofloxacin Ornidazole tablets) एंटीबायोटिक और प्रोटोजोआ ग्रुप का एक दवा है जो बैक्टीरिया और प्रोटोजोआ के कारण उत्पन्न हुए संक्रमणो को खत्म करता है तथा उसे रोकने में मदद करता है। ओफ्लोक्सासिन और ऑर्निडाज़ोले टैबलेट दो सक्रिय सामग्रियां है जो मुख्य रूप से आंतों के संक्रमण, आंख, नाक, पेट का संक्रमण, मूत्रमार्ग का संक्रमण इत्यादि को खत्म करता है तथा उसे रोकने में मदद करता है।

और पढ़े    मासिक दर्द की होमिओपैथिक दवा | बुखार का अचूक घरेलु उपचार 

ओफ्लोक्सासिन और ऑर्निडाज़ोले टैबलेट में मिली हुई सामग्रियां : Active ingredient Ofloxacin Ornidazole tablets in Hindi.


  • Ofloxacin
  • Ornidazole

Ofloxacin

ओफ़्लॉक्सासिन एक fluoroquinolone ग्रुप का एंटीबायोटिक्स है जो DNA gyrase को रोकता है और जीवाणु कोशिका विभाजन (bacterial cell division) नहीं होने देता है।

Ornidazole

औरनिडाजोल एक एंटी प्रोटोजोआ ग्रुप की दवा है जो डीएनए के साथ जुड़कर डीएनए संरचना को बनने से रोकता है। प्रोटीन सिंथेसिस को खत्म करता है और प्रोटोजोआ को खत्म करने में मदद करता है।

और पढ़े  Zerodol p tablet | Pilex tablet

ओफ्लोक्सासिन और ऑर्निडाज़ोले टैबलेट का उपयोग : Uses of Ofloxacin Ornidazole tablets in Hindi.


ofloxacin ornidazole tablets दो सक्रिय सामग्रियां है जो अलग-अलग संक्रम को खत्म करता है और उसे रोकता है। ओफ्लोक्सासिन और ऑर्निडाज़ोले टैबलेट मुख्य रूप से बैक्टीरिया से उत्पन्न हुए संक्रमण तथा प्रोटोजोआ के कारण उत्पन्न हुए संक्रमण को खत्म करता है।

  • डायरिया (Diarrhoea)

डायरिया केवल बैक्टीरिया से उत्पन्न नहीं होती है। डायरिया सभी तरह के जीवाणु, विषाणु, पैरासाइटिक और प्रोटोजोआ के कारण उत्पन्न होने वाली बीमारी है। डायरिया में पानी जैसा मल निकलता है जो डायरिया के सभी लक्षणों में से एक है।

  •  पेचिश (Dysentery)

पेचिश सभी प्रकार के जीवाणु, विषाणु, पैरासाइट और प्रोटोजोआ से उत्पन्न होने वाली बीमारी है। पेचिश के दौरान होने वाले मल में म्यूकस, खून का मिश्रण होता है। इसके साथ साथ जो लक्षण देखे जाते हैं। वह पेट दर्द और बुखार प्रमुख है।

  • आंत्रशोथ (Gastroenteritis)

गैस्ट्रोएन्टराइटिस मुख्य रूप से उन लोगों को होता है जो ऐसे बैक्टीरिया और वायरस के संपर्क में जाते हैं जो इस रोग को उत्पन्न होने का कारक बनता है। दूषित खाना खाना, पानी पीना, हाथ साफ न करना  इत्यादि के कारण भी यह बीमारी होती है। इसमें जो मुख्य लक्षण दिखते हैं। वह पानी जैसा मल होना, उल्टी, पेट दर्द, बुखार, सर दर्द, शरीर में पानी का कम हो जाना इत्यादि मुख्य माने जाते हैं।

और पढ़े  स्तन कैंसर लझण | Typhoid fever

  • तीव्र मसूड़े का सूजन (Acute gingivitis)

यह मुख्य रूप से बैक्टीरिया के द्वारा उत्पन्न होने वाली बीमारी है। अगर आप धूम्रपान करते हैं, तनाव में रहते हैं, आपका पेट खराब है तब यह बीमारी उत्पन्न होती है। इसमें जो लक्षण दिखते हैं। वह मुख्यतः मसूड़ों का दर्द, खून निकलना, दांतो के बीच जगह बना लेना मुख्य माना जाता है।

  • पायरिया (Pyorrhea)

पायरिया दांतो की एक खतरनाक बीमारी मानी जाती है। यह मुख्यतः आपके दातों में सूक्ष्मजीवों के उत्पन्न होने के कारण होता है। इसके लक्षण मुख्य रूप से दांतों में पस होना, दांतों से खून निकलना, मुंह से बदबू आना, दांतों में दर्द होना, मुख्य माना जाता है।

  • दांतो का संक्रमण (Apical root infection)

यह मुख्य रूप से दांतों के जड़ों में होने वाली बीमारी है। इस बीमारी के कारण दांत सड़ जाते हैं, दातों में दर्द शुरू हो जाता है, दांत टूटने लगते हैं, मसूड़ों में सूजन हो जाती है।

  • मूत्र मार्ग में संक्रमण (Urinary tract infection)
  • त्वचा संक्रमण (Skin infection)
  • सेक्स संबंधित बीमारियां (Sexual transmitted disease)

ओफ्लोक्सासिन और ऑर्निडाज़ोले टैबलेट से होने वाले दुष्प्रभाव : Side effect of Ofloxacin Ornidazole tablets in Hindi.


ofloxacin ornidazole tablets दो सामग्रियां है अगर आपको इन दोनों में से किसी सामग्रियों से पहले से एलर्जी है, तो आप इस दवा का इस्तेमाल ना करें। हालांकि यह टैबलेट से होने वाले दुष्प्रभाव सभी लोगों ने देखा नहीं गया है लेकिन कुछ लोग ऐसे हैं, जिनमें इसका दुष्प्रभाव देखा गया है। ओफ्लोक्सासिन और ऑर्निडाज़ोले टैबलेट से होने वाले कुछ दुष्प्रभावों को नीचे वर्णन किया गया है।

  • सर दर्द (Headache)
  • पेट दर्द (Stomach pain)
  • मुंह का सूखना (Mouth dryness)
  • आंतो का अल्सर (Stomach ulcer)
  • मुंह का अल्सर (Mouth ulcer)
  • उल्टी (Vomiting)
  • मतली (Nausea)
  • गैस की समस्या (Gas)  और पढ़े  गैस ख़त्म करने के घरेलु उपचार
  • खुजली (Itching)
  • कब्ज (Constipation)
  • त्वचा एलर्जी  (Skin allergy)
  • चिड़चिड़ापन (Irritability)
  • पेट फूलना  (Bloating)
  • मैटेलिक स्वाद (Metallic taste)

ओफ्लोक्सासिन और ऑर्निडाज़ोले टैबलेट की खुराक : Doses of Ofloxacin Ornidazole tablets in Hindi.


  • इस टैबलेट की खुराक सभी व्यक्तियों में अलग-अलग उपयोग किया जाता है।
  • इस दवा का इस्तेमाल एक दिन में तीन टेबलेट से ज्यादा न करने की सलाह दी जाती है।
  • यह टेबलेट का इस्तेमाल खाना खाने के आधे घंटे बाद करने की सलाह दी जाती है।
  • यह दवा खाने के बाद 30 मिनट से 1 घंटे के अंदर अपना असर दिखाना शुरू कर देता है और इस दवा का असर 6 घंटे तक बरकरार रहता है।

छुट्टी हुई खुराक : अगर दवा की खुराक छूट जाती है और कुछ समय बाद याद आने पर छुट्टी हुई खुराक का इस्तेमाल किया जा सकता है। लेकिन दूसरी खुराक का समय आने पर उस छुट्टी हुई खुराक का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है। इस दवा का दोनों खुराक एक समय पर इस्तेमाल ना करने की सलाह दी जाती है।

अधिक खुराक : अधिक खुराक लेने पर इस दवा का दुष्प्रभाव देखा गया है। इसलिए इस दवा का इस्तेमाल अधिक खुराक में ना करें। अगर किसी वजह से इस दवा का अधिक खुराक लिया गया हो तो आप तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें।

सभी दवाइयों की खुराक बीमारी की जटिलता और व्यक्ति के उम्र तथा वजन पर निर्भर करता है। अगर बीमारी की जटिलता ज्यादा होगी तो दवाइयों की खुराक को भी बढ़ाया जा सकता है। अगर किसी व्यक्ति का वजन ज्यादा होता है उस संदर्भ में भी दवाइयों की खुराक को बढ़ाया जा सकता है। कभी-कभी बीमारियों की जटिलता और व्यक्ति के वजन को देखते हुए दवाइयों की खुराक को दोगुना करना पड़ सकता है। इसके लिए जरूरी है कि दवाइयों के संपूर्ण खुराक को जानने के लिए आप अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

और पढ़े  हाई ब्लड प्रेशर के कारण और लझण | हाई ब्लड प्रेशर में क्या खाएं 

सावधानियां : precaution.


  • प्रशिक्षित चिकित्सक के द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार ही इसकी खुराक का इस्तेमाल करें।
  • अगर आपको इसके किसी भी सामग्री से एलर्जी या दुष्प्रभाव है तो आप इस दवा का इस्तेमाल ना करें इस टैबलेट का इस्तेमाल खाना खाने के बाद किया जा सकता है।
  • इस टैबलेट का इस्तेमाल रोजाना एक ही समय पर करने की सलाह दी जाती है।
  • अगर इस दवा को इस्तेमाल करने के बाद किसी भी तरह की शारीरिक अस्वस्थता दिखे तो आप इस दवा का लेना तुरंत बंद करें और अपने नजदीकी चिकित्सा से संपर्क करें।

ओफ्लोक्सासिन और ऑर्निडाज़ोले टैबलेट के दूसरे ब्रांड : Substitute of Ofloxacin Ornidazole tablets in Hindi.


दूसरे ब्रांडकंपनी नाम
O2 tabletMedley
Ornof tabletAristo
Oflomac tabletMacleods
oflox OZ tabletCipla
Ofloren OZIndoco
Zenflox oz tabletMankind

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल।


Q – कितने समय तक ओफ्लोक्सासिन और ऑर्निडाज़ोले टैबलेट इस्तेमाल करने के बाद स्वास्थ्य ठीक हो जाएगा?

मुख्य रूप से एक से दो दिन इस्तेमाल करने के बाद यह अपना प्रभाव दिखाना शुरू करता है। बेहतर जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से विमर्श करें।

Q – क्या इसका इस्तेमाल गर्भावस्था के दौरान सुरक्षित है?

गर्भावस्था के दौरान किसी भी दवा का इस्तेमाल करने से पहले आप अपने डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

Q – क्या ओफ्लोक्सासिन और ऑर्निडाज़ोले टैबलेट दूध पिलाने वाली महिलाओं में सुरक्षित है?

अगर दूध पिलाने वाली महिलाओं में किसी भी तरह से स्वास्थ्य संबंधित समस्या है तो डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

Q – ओफ्लोक्सासिन और ऑर्निडाज़ोले टैबलेट की लत लग सकती है?

नहीं, ओफ्लोक्सासिन और ऑर्निडाज़ोले टैबलेट एक हेल्थ सप्लीमेंट है। इसीलिए अभी तक इसकी लत लगते हुए नहीं देखा गया है।

Q – क्या होगा जब ओफ्लोक्सासिन और ऑर्निडाज़ोले टैबलेट का इस्तेमाल अधिक मात्रा में कर लिया जाए?

ओफ्लोक्सासिन और ऑर्निडाज़ोले टैबलेट का इस्तेमाल अधिक मात्रा में करने से यह आपके स्वास्थ्य को जल्दी ठीक नहीं कर पाएगा। अधिक खुराक इस्तमाल करने से आपको किसी भी तरह का दुष्प्रभाव हो सकता है।

आपके स्वस्थ से संबंधित और जानकारियाँ 


phimosis homeopathic medicine

Phimosis (फाइमोसिस) Homeopathic Medicine

Phimosis Homeopathic Medicine लिंगेन्द्रिय के अग्रभाग (सुपारी) को ढंकने वाली त्वचा को मुण्डावरक कहते हैं। सम्भोग के समय इसके शिशन-मुण्ड ...
Read More
Homeopathic medicine for cold in Hindi

सर्दी ज्वर की प्रमुख्य होम्योपैथिक दवाइयाँ:Homeopathic medicine for cold in Hindi.

Homeopathic medicine for cold in Hindi शरीर के स्वाभाविक तापमान में अधिक वृद्धि हो जाने को ज्वार या बुखार (fever) ...
Read More
Homeopathic medicine for fever

सामान्य बुखार की प्रमुख्य होम्योपैथिक दवा:Homeopathic medicine for fever in Hindi

Homeopathic medicine for fever in Hindi शरीर के स्वाभाविक तापमान में अधिक वृद्धि हो जाने को ज्वार या बुखार (fever) ...
Read More
Himplasia tablet

Himplasia tablet in Hindi: उपयोग/खुराक/दुस्प्रभाव

हिमालया हिम्प्लसी (Himplasia tablet) एक आयुर्वेदिक दवा है जो आपके प्रोस्टेट को स्वास्थ्य बनाए रखता है। यह दवा नॉन हार्मोनल ...
Read More
Rumalaya forte tablet in Hindi

Rumalaya forte tablet in Hindi उपयोग/खुराक/दुस्प्रभाव

Rumalaya forte tablet in Hindi रुमाल्या फोर्टे का उपयोग मुख्य रूप से सभी प्रकार के अर्थराइटिस, सूजन, जोड़ों का दर्द, ...
Read More
vitamin D in Hindi

Vitamin D in Hindi: खुराक/खाद्य पदार्थ/हानिकारक/सूरज से विटामिन डी मिल सकता है?

vitamin D in Hindi. विटामिन डी क्या है और यह क्या करता है?मुझे कितना विटामिन डी चाहिए?क्या खाद्य पदार्थ विटामिन ...
Read More
Mentat tablet in Hindi

Mentat tablet in Hindi: उपयोग/खुराक/दुस्प्रभाव

Mentat tablet in Hindi उपयोग | खुराक | दुस्प्रभाव हिमालय मेंटेट टेबलेट एक आयुर्वेदिक दवा है जो आपके एकाग्रता क्षमता, ...
Read More
lukol tablet in hindi

Lukol tablet in Hindi: उपयोग/खुराक/दुस्प्रभाव

Lukol tablet in Hindi उपयोग | खुराक | दुस्प्रभाव | कीमत | सवाल-जवाब हिमालया लुकोल प्राकृतिक सामग्रियों से मिलकर बना ...
Read More
Patanjali kesh kanti oil

Patanjali kesh kanti oil उपयोग/दुस्प्रभाव/सावधानियाँ

पतंजलि केश कांति हेयर ऑयल (Patanjali kesh kanti oil) भारत में एक लोकप्रिय बालों के झड़ने से रोकने का समाधान माना ...
Read More
Shilajit in hindi

Shilajit in hindi उपयोग/खुराक/दुस्प्रभाव

Shilajit in Hindi शुद्ध शिलाजीत (Shilajit in Hindi) एक आयुर्वेदिक औषधि है। शिलाजीत में कई प्रमुख औषधिय गुण पाया जाता ...
Read More

Patanjali shudh shilajit Hindi उपयोग/दुस्प्रभाव/खुराक

Patanjali shudh shilajit Hindi पतंजलि शुद्ध शिलाजीत लिक्विड (Patanjali shudh shilajit) एक आयुर्वेदिक औषधि है। इसका निर्माण पतंजलि के द्वारा ...
Read More
Himalaya Pilex Ointment Hindi

Himalaya Pilex Ointment Hindi लगाने का सही तरीका/सामग्रियाँ/दुष्प्रभाव

Himalaya Pilex Ointment Hindi सामग्रियाँ | उपयोग | खुराक  | लगाने का सही तरीका | दुष्प्रभाव हिमालय पाइलेक्स ऑइंटमेंट (Himalaya ...
Read More

0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published.