Home Remedies For Cough Hindi-पुरानी खासी ठीक करने के अचूक घरेलू उपाय

खांसी के प्रकार|लक्षण|कारण|अचूक घरेलू उपचार

 

खांसी मनुष्य में होने वाली एक आम बीमारी है। यह सभी मौसम में उत्पन्न हो सकती है। सर्दी के मौसम में यह सभी उम्र के व्यक्तियों को ज्यादा परेशान करती है। खांसी से जितनी परेशानी बच्चों तथा बुजुर्गों को होती है उतनी ही परेशानी व्यस्को में भी देखी गई है। आम खांसी मुख्यतः हमारे शरीर में मौजूद बाहरी पदार्थ जैसे सूक्ष्म जीव, तरल पदार्थ, बलगम इत्यादि को बाहर निकालने के लिए उत्पन्न होती है। Home Remedies for Cough Hindi

आम खांसी 2 से 4 दिनों तक होकर ही खत्म हो जाती है। कभी कभी आम खांसी में भी दवाइयां तथा घरेलू उपचार की जरूरत पड़ सकती है।

खांसी अगर बच्चे व्यस्क तथा बुजुर्गो के शरीर में कुछ ज्यादा दिनों तक बनी रहे तो वह किसी बीमारी का संकेत हो सकता है। यह किसी अन्य बीमारी के साथ में भी प्रकट हो सकती है। जैसे यकृत विकार, कंठ नलिका का विकार, दमा, सर्दी, निमोनिया इत्यादि बिमारियों के साथ खांसी प्राय: उपस्थित रहती है इसलिए खांसी अगर ज्यादा दिनों तक परेशान करे तो आप अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क कर इसका इलाज जरूर करवाएं।

Cough/खांसी के प्रकार : Types of Cough Hindi

खांसी मुख्यतः दो प्रकार के होते हैं।

सूखी खांसी (Dry Cough)
तर खांसी  (Wet Cough)

1 – सूखी खांसी : Dry Cough Hindi

सूखी खांसी में बलगम या कफ प्रायः सरलता पूर्वक हमारे छाती से बाहर नहीं निकल पाते या बहुत ही कष्ट पूर्वक वह हमारे छाती से निकल पाते हैं।

2 -तर खाँसी : Wet Cough Hindi

तर खांसी में बलगम या कफ बहुत ही सरलता पूर्वक हमारे छाती से गले के द्वारा बाहर निकाल दिए जाते हैं तर खांसी में बलगम या कफ का आकार बहुत ही ढीला होता है जिसके कारण वह आसानी से बाहर निकल जाते हैं।

और पढ़ें  खांसी की प्रमुख होम्योपैथिक दवाइयां

खांसी से हमारे शरीर में दिखने वाले लक्षण : Cough Symptom

खांसी के कारण हमारे शरीर में बहुत सारे लक्षण दिखाई पड़ते हैं अगर आप खांसी है तो अलग तरह के लक्षण हमारे शरीर में दिखाई देता है अगर वही किसी बीमारी के कारण उत्पन्न हुई खांसी है तो उसमें अलग तरह के लक्षण हमारे शरीर में दिखाई पड़ते हैं कुछ मुख्य लक्षणों का विवरण नीचे किया गया है

  • सांस लेने में तकलीफ होना (shortness of Breath)
  • नाको से पानी गिरना (Runny Nose)
  •  छाती में दर्द होना (Chest Pain)
  • वजन कम होना (Weight Loss)
  • बुखार लगना (Fever)
  • सांसों में घर-घर आहट होना (Wheezing Breath)
  • गले में खराश होना (Sore Throat)
  • रात को नींद ना आना रात को पसीना आना (Sleeplessness and Night Sweat)
  • निगलने में तकलीफ होना (Difficult Swallowing) 

और पढ़ें  खांसी की प्रमुख कारण और लक्षण 

खांसी उत्पन्न होने का कारण : Cough Causes

  • गले में संक्रमण के कारण (Throat Infection)
  • बुखार के कारण ( Fever)
  • एलर्जी के कारण (Allergy)
  • फेफड़े में संक्रमण के कारण Lung Infection)
  • धूम्रपान के कारण (Smoking)
  • पलमोनरी एडिमा (Pulmonary edema) 
  • ब्रोंकाइटिस के कारण (Bronchitis)
  • निमोनिया के कारण (Pneumonia)
  • गैस्ट्रोएसोफागीयल रिफ्लक्स के कारण (GERD)
  • अस्थमा के कारण (Asthma)
  • फेफड़े में कैंसर के कारण (Cancer in lung)
  • टीवी के कारण (Tuberculosis)

 

पुरानी खांसी ठीक करने के अचूक घरेलू उपाय : Home Remedies for Cough Hindi

1 – अगर आपको पुरानी खासी है तो आप पिसी हुई हल्दी एक चौथाई चम्मच लें और उसने आधा चम्मच शहद मिलाकरए प्रतिदिन 2 बार इस्तेमाल करें पुरानी खासी बिल्कुल खत्म हो जाएगी।


2 – 5 लॉन्ग भून कर उसका चूर्ण बना ले और तुलसी के पत्तों के साथ प्रतिदिन उसका दो बार सेवन करें इसके सेवन से पुरानी खांसी खत्म हो जाती है। केवल तुलसी के पत्तों का काढ़ा बनाकर पीने से भी खांसी ठीक हो जाती है। अगर आप को खांसी है तो तुलसी की सूखी हुई पत्तियों का चूर्ण और कुछ मिश्री की मात्रा मिलाकर खाने से भी खांसी और बलगम खत्म हो जाती है।


3 – अगर आपको पुरानी खांसी है और वह ठीक नहीं हो पा रही तो कुछ ताजा मुनक्के के दानों को रात के समय स्वच्छ पानी में भिगो दें सुबह उसी फुले हुए मुनक्के का सेवन प्रतिदिन लगभग 30 दिनों तक करें यह पुरानी खांसी की अचूक घरेलू इलाज है।


4 – पुरानी खांसी को जड़ से खत्म करने के लिए कुछ दिनों तक सेब के रस में मिश्री के कुछ मात्रा मिलाकर प्रतिदिन सेवन करें पुरानी खांसी खत्म हो जाएगी।


Home Remedies for Cough Hindi

5 – अंजीर पुरानी खांसी व सूखी खांसी के लिए लाभप्रद होता है अगर आपको पुरानी खांसी की समस्या है तो आप प्रतिदिन अंजीर का सेवन करें। अंजीर बलगम को पतला कर उसे बाहर निकालने में मदद करता है जिस से पुरानी खांसी खत्म हो जाती है।


6 – अगर आप पुरानी खासी से बहुत ज्यादा परेशान है तो कपूर और मुलेठी को मुंह में रख कर चूसने से पुरानी खांसी में आराम मिलता है।


7 – जो लोग पुरानी खासी से बहुत परेशान है उनके लिए ये घरेलू उपाय अचूक माना जाता है। नई बांस के पत्ते का चूर्ण बनाकर उसे शहद के साथ खाने से पुरानी खांसी ठीक हो जाती है।


8 – अगर आपको पुरानी खासी है, तो प्रातकाल 250 ग्राम बकरी के ताजे दूध में 25 ग्राम हल्दी का चूर्ण पक्का कर उसे ठंडा कर ले उसके पश्चात उसने 5 ग्राम शहद डालकर रोजाना इसका इस्तेमाल करें पुरानी खांसी में आराम मिलता है।


9 – पुरानी खांसी को खत्म करने के लिए 200 ग्राम बहेरा तवे पर भून ले और 10 ग्राम नौशाद तवे पर सेक कर दोनों का चूर्ण बनाकर एक साथ मिला लें। इसके पश्चात चार चुटकी चूर्ण को 10 ग्राम शहद में मिलाकर प्रतिदिन तीन बार इस्तेमाल करें पुरानी खांसी खत्म हो जाएगी।


10 – पुरानी खांसी के लिए पका हुआ सेब का रस के साथ मिश्री मिलाकर प्रातः काल इस्तेमाल करें पुरानी का से ठीक हो जाएगी। Home Remedies for Cough Hindi

 

और पढ़ें : More for your Health

phimosis homeopathic medicine

Phimosis (फाइमोसिस) Homeopathic Medicine

Phimosis Homeopathic Medicine लिंगेन्द्रिय के अग्रभाग (सुपारी) को ढंकने वाली त्वचा को मुण्डावरक कहते हैं। सम्भोग के समय इसके शिशन-मुण्ड ...
Read More
normal body temperature

Normal body temperature इससे ज्यादा तापमान बुखार हो सकता है।

Normal body temperature in Hindi शरीर के स्वाभाविक तापमान में अधिक वृद्धि हो जाने को ज्वार या बुखार (fever) कहा ...
Read More
vomiting medicine during pregnancy

vomiting medicine during pregnancy: गर्भावस्था के दौरान उल्टी और मतली की दवाइयां

प्रथम चरण के दवाओं का इस्तेमाल उल्टी और मतली में गर्भावस्था के दौरान (vomiting medicine during pregnancy) सुरक्षित मानी जा ...
Read More
(filaria in Hindi)

Filaria in Hindi: कारण/लझण/उपचार/दवाइयाँ

Filaria in Hindi कारण | लझण | उपचार | दवाइयाँ लिंफेटिक फलेरिया ( lymphatic filariasis) और हाथी पांव उष्णकटिबंधीय और ...
Read More
Covid-19 symptoms

COVID-19 Symptoms Day to Day in Hindi.

COVID-19 Symptoms आज पूरा देश coronavirus के महामारी से जंग लड़ रहा है। पूरे देश में coronavirus से संक्रमित लोगों ...
Read More
Tetanus in hindi

Tetanus in Hindi कारण/लझण/उपचार

टिटनस (Tetanus in Hindi) एक खतरनाक बीमारी मानी जाती है, जो बैक्टीरियल संक्रमण के कारण उत्पन्न होता है। टिटनेस जिस ...
Read More
Chamki fever से बिहार में 100 से ज्यादा बच्चों की जाने जा चुकी है, 2014 और 2017 में ये बीमारी बिहार में महामारी फैला चुकी है।

Chamki Fever(चमकी बुखार) लझण/कारण/वचाब/क्या करें/क्या नहीं

चमकी बुखार (Chamki Fever), एक्यूट इंसेफेलाइटिस, जापानी बुखार या दिमागी बुखार यह सभी एक ही बीमारी के नाम हैं। जो ...
Read More
polio in hindi

Polio in hindi लझण/जाँच/उपचार/रोक-थाम/क्या करें-क्या नहीं

Polio in hindi लझण | जाँच | उपचार | रोक-थाम | क्या करें | क्या नहीं  आपने अपने आस-पास जरूर कोई ...
Read More
communicable diseases

communicable diseases (संक्रामक रोग) फैलने का मुख्या कारण और रोक-थाम

Communicable diseases (संक्रामक रोग) आपने कभी गौर किया है। कि शहर में या आपके आसपास के कुछ लोग किसी खास ...
Read More
asthma in hindi

दमा (अस्थमा) कारण/लक्षण/बचाव/इलाज Asthma in Hindi

लझण | कारण | प्रकार | जाँच |उपचार |बचाव  अस्थमा (Asthma in Hindi) एक स्वसन तंत्र की बीमारी है। अस्थमा ...
Read More

 

 


0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published.