टुफ्प्रो (Tufpro suspension in hindi)

टुफ्प्रो (Tufpro suspension in Hindi) एक प्रोबायोटिक है जो शिशुओं, बच्चों से लेकर व्यस्को में होने वाले दस्त की समस्या को खत्म करता है। टुफ्प्रो मुख्य रूप से संक्रमण तथा एंटीबायोटिक के कारण होने वाले दस्त की समस्या को खत्म करता है। प्रोबायोटिक बैक्टीरिया कई तरह के होते हैं लेकिन टुफ्प्रो में बेसिलस क्लॉज़ी नाम के प्रोबायोटिक बैक्टीरिया का इस्तेमाल किया गया है जिसे प्रोबायोटिक में सबसे बेहतर बैक्ट्रिया माना जाता है।

Tufpro suspension मार्केट में तीन प्रारूपों में उपलब्ध है। टुफ्प्रो सस्पेंशन, टुफ्प्रो सचेट (Tufpro sachet) और टुफ्प्रो कैप्सूल। टुफ्प्रो सस्पेंशन मुख्य रूप से 5ml में उपलब्ध है जिसमें 2 बिलियन बेसिलस क्लॉज़ी का इस्तेमाल किया गया है। टुफ्प्रो सचेत की उपलब्धता 2 ग्राम में मौजूद है जिसमें 6 बिलियन बेसिलस क्लॉज़ी का इस्तेमाल किया गया है। टुफ्प्रो के एक कैप्सूल मैन 2 बिलियन बेसिलस क्लॉज़ी का इस्तेमाल किया गया है।

और पढ़ें   पेट गैस का घरेलु उपचार

बेसिलस क्लॉज़ी आई क्या है : what is bacillus clausii?

बेसिलस क्लॉज़ी मुख्य रूप से एक बैक्ट्रिया है जो तीव्र और पुरानी दस्त को खत्म करने में मदद करता है। बेसिलस क्लॉज़ी मुख्य रूप से रॉड के आकार का, ग्राम पॉजिटिव, मोटाइल, बीजाणु बनाने वाले जीवाणु जो मिट्टी में रहते हैं। यह मुख्य रूप से एंटीबायोटिक और दूसरे दवाइयों के साथ इस्तेमाल की जाने वाली एक प्रोबायोटिक है। एंटीबायोटिक और दूसरी दवाइयां हमारे आंत वनस्पति (intestinal flora) को नुकसान पहुंचाती है जिसके कारण दस्त जैसी गंभीर समस्या उत्पन्न होती है। बेसिलस क्लॉज़ी हमारे आंत बनस्पति (intestinal flora) के संतुलन को बहाल करने में मदद करता है।

और पढ़ें   खाँसी की घरेलु उपचार

टुफ्प्रो का उपयोग : Uses of Tufpro suspension in Hindi.

टुफ्प्रो मुख्य रूप से पुराने और जटिल दस्त को ठीक करने में मदद करता है।

  • संक्रमण से संबंधित दस्त (infectious diarrhoea)
  • एंटीबायोटिक से संबंधित दस्त (antibiotic associated diarrhoea)

दस्त (diarrhoea) बिना किसी परिश्रम के पानी जैसे माल का निकलना ही दस्त और अतिसार कहलाता है। यह समस्या कम से कम दिन में तीन बार होती है तब उसे दस्त हो या अतिसार की संज्ञा दी जाती है।

और पढ़ें  rabeprazole & domperidone

अतिसार के अधिकांश मामले गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट में संक्रमण के कारण होते हैं। इस संक्रमण के लिए जिम्मेदार जीवाणु, विषाणु, पैरासाइट रोगाणुओं में शामिल हैं।

  • संक्रमण से संबंधित दस्त (infection associated diarrhoea)

संक्रमित दस्त दुनिया भर में सबसे आम समस्या मानी जाती है। यह मुख्य रूप से प्रदूषित भोजन और प्रदूषित पानी पीने के कारण पनपता है। संक्रमित दस्त से और बीमारियों के मुकाबले जैसे गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल कैंसर, पेप्टिक अल्सर, इन्फ्लेमेटरी बॉवेल सिंड्रोम से ज्यादा जाने (death) जाती है।

और पढ़ें  Monocef injection Dose

  • एंटीबायोटिक से संबंधित दस्त (antibiotic associated diarrhoea)

बैक्टीरिया के संक्रमण के इलाज के लिए इस्तेमाल की जाने वाली दवा लेने के एक दिन बाद तीन या अधिक बार ढीले पानी के मल का होना एंटीबायोटिक से संबंधित दस्त कहलाता है।

टुफ्प्रो के दुष्प्रभाव : Side effect of Tufpro suspension in Hindi.

  • टुफ्प्रो का दुष्प्रभाव सभी व्यक्तियों में देखा नहीं गया है।
  • इस दवा का दुष्प्रभाव बहुत कम व्यक्तियों या बच्चों में देखने को मिला है।
  • इस दवा का अभी तक कोई भी बड़ा दुष्प्रभाव देखा नहीं गया है।

टुफ्प्रो दवा से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में नीचे वर्णन किया जा रहा है अगर आप इस दवा का इस्तेमाल करते हैं और किसी भी तरह का दुष्प्रभाव दिखता है तो आप तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें इस तरह का इस्तेमाल हमेशा एक निर्धारित खुराक में करने की सलाह दी जाती है।

  • त्वचा पर चकत्ते
  • मतली
  • तीव्र विषाक्तता
  • पेट में परेशानी

यहां पर कुछ ऐसे दुष्प्रभावों के बारे में वर्णन किया गया है जो अक्सर मरीजों में देखा जाता है लेकिन कुछ ऐसे भी दुष्प्रभाव हो सकते हैं जो यहां पर बताए नहीं गए हैं। तो अगर इस दवा के इस्तेमाल करने के बाद आपके शरीर में किसी भी तरह की अस्वस्थता दिखे तो आप तुरंत अपने नजदीकी चिकित्सा केंद्र में संपर्क करें।

और पढ़ें  हिमालया Speman tablet

टुफ्प्रो की खुराक : Doses of Tufpro suspension in Hindi.

  • टुफ्प्रो की खुराक नवजात शिशुओं बच्चों और वयस्कों में अलग-अलग मात्रा में दी जाती है।
  • दवा को देने से पहले इसके बोतल को अच्छी तरह से लाने की सलाह दी जाती है।
  • टुफ्प्रो के बोतल को छोड़कर उसका इस्तेमाल पानी के साथ क्या दूध के साथ भी किया जा सकता है।
  • Tufpro oral suspension का इस्तेमाल नीचे दी गई खुराक में करने की सलाह दी जाती है।
  • टुफ्प्रो का इस्तेमाल अधिक मात्रा में न करने की सलाह दी जाती है।
  • टुफ्प्रो का इस्तेमाल अधिक मात्रा में करने पर इसके दुष्प्रभाव भी देखे गए हैं।

व्यास को में टुफ्प्रो का अधिकतम खुराक

  • 2 से 3 बोतल एक दिनों में

बच्चों में टुफ्प्रो का अधिकतम खुराक

  • 1 से 2 बोतल एक दिनों में

नवजात बच्चों में टुफ्प्रो का अधिकतम खुराक

  • 1 से 2 बोतल एक दिनों में

और पढ़ें  पुरानी खाँसी की घरेलु उपचार

सभी दवाइयों की खुराक बीमारी की जटिलता और व्यक्ति के उम्र तथा वजन पर निर्भर करता है। अगर बीमारी की जटिलता ज्यादा होगी तो दवाइयों की खुराक को भी बढ़ाया जा सकता है। अगर किसी व्यक्ति का वजन ज्यादा होता है उस संदर्भ में भी दवाइयों की खुराक को बढ़ाया जा सकता है। कभी-कभी बीमारियों की जटिलता और व्यक्ति के वजन को देखते हुए दवाइयों की खुराक को दोगुना करना पड़ सकता है। इसके लिए जरूरी है कि दवाइयों के संपूर्ण खुराक को जानने के लिए आप अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

टुफ्प्रो ओरल सस्पेंशन की कीमत : Price of Tufpro suspension in Hindi.

ओरल सस्पेंशन कीमत   Rs 24.00

टुफ्प्रो के दूसरे ब्रांड : Substitute of Tufpro suspension in Hindi.

  • दूसरे ब्रांड                निर्माता कंपनी 
  • Tufpro        –     Sunpharma 
  • Enterogemina – Sanofi
  • Ecobion BC   –   Mark Pharma 
  • Benegut       –     Abbott 
  • Novagermina  –   Century
  • Zeebon         –     Wockhardt
  • Darolac aqua  –   Aristo
  • Entroclausi     –   Fourrts
  • Clabioz         –     Lupin
  • Enbios       –       Macleods
  • Baciclasi      –      Sanzyme

टुफ्प्रो का निर्माता कंपनी : Manufacturer company of Tufpro.

  • Macleods Pharma
phimosis homeopathic medicine

Phimosis (फाइमोसिस) Homeopathic Medicine

Phimosis Homeopathic Medicine लिंगेन्द्रिय के अग्रभाग (सुपारी) को ढंकने वाली त्वचा को मुण्डावरक कहते हैं। सम्भोग के समय इसके शिशन-मुण्ड ...
Read More
Homeopathic medicine for cold in Hindi

सर्दी ज्वर की प्रमुख्य होम्योपैथिक दवाइयाँ:Homeopathic medicine for cold in Hindi.

Homeopathic medicine for cold in Hindi शरीर के स्वाभाविक तापमान में अधिक वृद्धि हो जाने को ज्वार या बुखार (fever) ...
Read More
Homeopathic medicine for fever

सामान्य बुखार की प्रमुख्य होम्योपैथिक दवा:Homeopathic medicine for fever in Hindi

Homeopathic medicine for fever in Hindi शरीर के स्वाभाविक तापमान में अधिक वृद्धि हो जाने को ज्वार या बुखार (fever) ...
Read More
Himplasia tablet

Himplasia tablet in Hindi: उपयोग/खुराक/दुस्प्रभाव

हिमालया हिम्प्लसी (Himplasia tablet) एक आयुर्वेदिक दवा है जो आपके प्रोस्टेट को स्वास्थ्य बनाए रखता है। यह दवा नॉन हार्मोनल ...
Read More
Rumalaya forte tablet in Hindi

Rumalaya forte tablet in Hindi उपयोग/खुराक/दुस्प्रभाव

Rumalaya forte tablet in Hindi रुमाल्या फोर्टे का उपयोग मुख्य रूप से सभी प्रकार के अर्थराइटिस, सूजन, जोड़ों का दर्द, ...
Read More
vitamin D in Hindi

Vitamin D in Hindi: खुराक/खाद्य पदार्थ/हानिकारक/सूरज से विटामिन डी मिल सकता है?

vitamin D in Hindi. विटामिन डी क्या है और यह क्या करता है?मुझे कितना विटामिन डी चाहिए?क्या खाद्य पदार्थ विटामिन ...
Read More
Mentat tablet in Hindi

Mentat tablet in Hindi: उपयोग/खुराक/दुस्प्रभाव

Mentat tablet in Hindi उपयोग | खुराक | दुस्प्रभाव हिमालय मेंटेट टेबलेट एक आयुर्वेदिक दवा है जो आपके एकाग्रता क्षमता, ...
Read More
lukol tablet in hindi

Lukol tablet in Hindi: उपयोग/खुराक/दुस्प्रभाव

Lukol tablet in Hindi उपयोग | खुराक | दुस्प्रभाव | कीमत | सवाल-जवाब हिमालया लुकोल प्राकृतिक सामग्रियों से मिलकर बना ...
Read More
Patanjali kesh kanti oil

Patanjali kesh kanti oil उपयोग/दुस्प्रभाव/सावधानियाँ

पतंजलि केश कांति हेयर ऑयल (Patanjali kesh kanti oil) भारत में एक लोकप्रिय बालों के झड़ने से रोकने का समाधान माना ...
Read More
Shilajit in hindi

Shilajit in hindi उपयोग/खुराक/दुस्प्रभाव

Shilajit in Hindi शुद्ध शिलाजीत (Shilajit in Hindi) एक आयुर्वेदिक औषधि है। शिलाजीत में कई प्रमुख औषधिय गुण पाया जाता ...
Read More

Patanjali shudh shilajit Hindi उपयोग/दुस्प्रभाव/खुराक

Patanjali shudh shilajit Hindi पतंजलि शुद्ध शिलाजीत लिक्विड (Patanjali shudh shilajit) एक आयुर्वेदिक औषधि है। इसका निर्माण पतंजलि के द्वारा ...
Read More
Himalaya Pilex Ointment Hindi

Himalaya Pilex Ointment Hindi लगाने का सही तरीका/सामग्रियाँ/दुष्प्रभाव

Himalaya Pilex Ointment Hindi सामग्रियाँ | उपयोग | खुराक  | लगाने का सही तरीका | दुष्प्रभाव हिमालय पाइलेक्स ऑइंटमेंट (Himalaya ...
Read More

0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published.